उत्तर प्रदेश आपदा राहत सहायता योजना: 1,000 रुपए की धनराशि सहायता के रूप में प्रदान की जाएगी

केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा श्रमिकों को सहायता प्रदान करने के लिए नए-नए योजनाएं विकसित की जाती है। इसी तरह उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा भी श्रमिकों को आर्थिक सहायता प्रदान करने के उद्देश्य से उत्तर प्रदेश आपदा राहत सहायता योजना की शुरुआत की गई है। के माध्यम से राज्य के असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले मजदूरों को दुर्घटना होने अर्थात आपदा होने पर नुकसान की भरपाई हेतु आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। हम सभी जानते हैं कि निर्माण श्रमिको के कार्यों में हमेशा दुर्घटना होने की संभावना बनी रहती है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा Uttar Pradesh Aapda Rahat Sahayata Yojana आरंभ की गई है। आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से उत्तर प्रदेश आपदा राहत सहायता योजना से संबंधित जानकारी उपलब्ध कराएंगे।

उत्तर प्रदेश आपदा राहत सहायता योजना

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा उत्तर प्रदेश आपदा राहत सहायता योजना का शुभारंभ किया गया है। राज्य के श्रमिकों को आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए इस योजना की शुरुआत की गई है। उत्तर प्रदेश आपदा राहत सहायता योजना के माध्यम से सरकार द्वारा राज्य के श्रमिकों को आपदा के कारण होने वाली जान माल की हानि की भरपाई करने के लिए आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाएगी। इस योजना के माध्यम से श्रमिकों को 1000 रुपए तक की आर्थिक सहायता सरकार द्वारा प्रदान की जाएगी। आर्थिक सहायता की धनराशि लाभार्थियों के बैंक खाते में भेजी जाएगी। यह धनराशि श्रमिक के बैंक खाते में आरटीजीएस के माध्यम से प्रदान की जाएगी। UP Aapda Rahat Sahayata Yojana के माध्यम से राज्य के सभी श्रमिकों को लाभ प्रदान किया जाएगा। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए श्रमिकों को ऑनलाइन आवेदन करना होगा।

उत्तर प्रदेश आपदा राहत सहायता योजना – विवरण

योजना का नाम उत्तर प्रदेश आपदा राहत सहायता योजना
शुरू की गई मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा
विभाग उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड
लाभार्थी राज्य में असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले श्रमिक
उद्देश्य मजदूरों की आर्थिक सहायता करना
आर्थिक सहायता राशि 1,000 रुपए
यह भी पढे : दिल्ली पब्लिक लाइब्रेरी 2023: विभिन्न पदों पर बम्पर भर्ती का नोटिफिकेशन जारी

उत्तर प्रदेश आपदा राहत सहायता योजना का उद्देश्य

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा यूपी आपदा राहत सहायता योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य राज्य में संगठित क्षेत्र में काम करने वाले श्रमिकों को आर्थिक सहायता प्रदान करना है। ताकि श्रमिकों की जीवनशैली में सुधार लाया जा सके और उनको कुछ सहायता प्रदान की जा सके। इस योजना के माध्यम से राज्य के सभी श्रमिकों को 1000 रुपए की धनराशि आर्थिक सहायता के रूप में प्रदान की जाएगी। यह सहायता राशि श्रमिकों के बैंक खाते में आरटीजीएस के द्वारा ट्रांसफर की जाएगी। इस योजना के माध्यम से श्रमिक और गरीब व्यक्ति अपने जीवन में आने वाली कठिनाइयों का कुछ हद तक सामना कर सकेंगे। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना का लाभ उठाने के लिए श्रमिकों को ऑनलाइन आवेदन की सुविधा भी प्रदान की गई है।

उत्तर प्रदेश आपदा राहत सहायता योजना के लाभ एवं विशेषताएं

  • यूपी आपदा राहत सहायता योजना की शुरुआत उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा की गई है।
  • इस योजना के माध्यम से राज्य के श्रमिको को सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • UP Aapda Rahat Sahayata Yojana के तहत श्रमिकों को सरकार की ओर से 1,000 रुपए की धनराशि आर्थिक सहायता के रूप में प्रदान की जाएगी।
  • राज्य सरकार द्वारा दी जाने वाली सहायता राशि श्रमिक के बैंक खाते में ऑनलाइन माध्यम से वितरित की जाएगी।
  • श्रमिक विभाग द्वारा योजना के तहत लाभार्थियों का ऑनलाइन डेटाबेस तैयार किया जाएगा।
  • इस योजना के तहत अब तक राज्य सरकार द्वारा 6,81,93,000 सहायता राशि का का वितरण किया जा चुका है।
  • आपदा राहत सहायता योजना के तहत अब तक 1,79,095 राज्य के श्रमिक अपना ऑनलाइन पंजीकरण करवा चुके हैं।
  • उत्तर प्रदेश आपदा राहत सहायता योजना के माध्यम से 68,193 निर्माण श्रमिकों के बैंक खातों में राज्य सरकार द्वारा सहायता राशि भेजी जा चुकी है।
  • राज्य के सभी श्रमिकों को इस योजना का लाभ प्राप्त होगा।
  • श्रमिकों का श्रमिक कार्ड बना हुआ है केवल वे ही इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।
  • सहायता राशि प्राप्त कर श्रमिक अपनी और अपने परिवार की जरूरतों को पूरा कर सकते हैं।
  • श्रमिकों को इस योजना के अंतर्गत किसी भी आपदा से होने वाली हानि की भरपाई की जाएगी।
  • इस योजना का लाभ प्राप्त कर श्रमिकों को कुछ हद तक राहत प्राप्त होगी।

उत्तर प्रदेश आपदा राहत सहायता योजना की पात्रता

  • उत्तर प्रदेश आपदा राहत सहायता योजना के तहत आवेदन करने के लिए केवल उत्तर प्रदेश के श्रमिक ही पात्र होंगे।
  • आवेदक श्रमिक उत्तर प्रदेश का मूल निवासी होना चाहिए।
  • उत्तर प्रदेश श्रमिक बोर्ड विभाग में श्रमिक आवेदक को पंजीकृत होना चाहिए उसका लेबर कार्ड बना होना चाहिए।
  • श्रमिक आवेदक की आयु 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए श्रमिक का बैंक खाता आधार से लिंक होना चाहिए।

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • श्रमिक कार्ड
  • बैंक खाता विवरण
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर
  • निवास प्रमाण पत्र
यह भी पढे : NDRF भर्ती 2023: सब इंस्पेक्टर के पदों पर भर्ती का नोटिफिकेशन जारी

आवेदन कैसे करे

  • सबसे पहले आपको आवेदन करने के लिए उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको योजना का आवेदन करें के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आपके सामने एक फॉर्म खुल जाएगा।
  • अब आपको इस फॉर्म में पूछी गई आवश्यक जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • जैसे मंडल का चयन, आधार कार्ड की संख्या एवं मोबाइल नंबर आदि।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको आवेदन पत्र का ऑप्शन दिखाई देगा
  • आपको उस पर क्लिक करना होगा। इसके बाद आपके सामने आवेदन फॉर्म खुल जाएगा।
  • अब आपको इस आवेदन फॉर्म में आवश्यक जानकारी जैसे आपका नाम, आयु, पता, जिला आदि दर्ज करना होगा।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको मांगे गए सभी आवश्यक दस्तावेजों को भी अपलोड करना होगा।
  • सभी दस्तावेजों को अपलोड करने के बाद आपको Submit के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप उत्तर प्रदेश आपदा राहत सहायता योजना के तहत आवेदन प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं।

महत्वपूर्ण लिंक

HomePage Click Here

1 thought on “उत्तर प्रदेश आपदा राहत सहायता योजना: 1,000 रुपए की धनराशि सहायता के रूप में प्रदान की जाएगी”

Leave a Comment