UP कौशल विकास योजना : इस योजना के तहत व्यक्ति को प्रमाण पत्र दिया जाएगा जो उसे नौकरी पाने में मदद करेगा

Uttar Pradesh (UP) Kaushal Vikas Yojana 2023 (उत्तर प्रदेश कौशल विकास योजना), यूपी कौशल विकास मिशन – उत्तर प्रदेश में युवाओं को उनके कौशल के अनुसार प्रशिक्षण प्रदान करने के उद्देश्य से कौशल विकास योजना उत्तर प्रदेश की शुरुआत की गई है। इस योजना में प्रदेश सरकार युवाओं को कौशल प्रशिक्षण केंद्रों के माध्यम से प्रशिक्षित कर रोजगार के बेहतर अवसर प्रदान करने में मदद करेगी। इस योजना का मुख्य उद्देश्य युवाओं को औद्योगिक प्रशिक्षण प्रदान कर स्वावलमबी तथा कुशल बनाना है। उत्तर प्रदेश कौशल विकास योजना 2023 के अंतर्गत सरकार प्रशिक्षण केंद्रों के माध्यम से ऐसे युवाओं को ट्रेनिंग प्रदान करेगी जो युवा अपने दम पर समाज में एक मुकाम हासिल करना चाहते हैं।

UP कौशल विकास योजना

किसी देश, राज्य की अर्थव्यवस्था में वहां के युवाओं की भागीदारी अहम मानी जाती है। किसी क्षेत्र के लोगों को रोजगार के पर्याप्त अवसर प्राप्त है तो वह देश, राज्य चहुमुखी विकास की ओर तेजी से आगे बढ़ने लगता है। इस बात को समझते हुए यूपी कौशल विकास मिशन की शुरुआत की गई थी। वह सभी युवा जो किसी कारण वर्ष अपनी पढ़ाई बीच में ही छोड़ चुके हैं यूपी कौशल विकास योजना के अंतर्गत प्रशिक्षण प्राप्त कर सकते हैं। इस योजना से राज्य के युवा और युवतियों के अंतर्गत लाभार्थियों को मोटर वाहन, पेंशन डिजाइनिंग समेत 34 क्षेत्रों के 283 पाठ्यक्रमों में प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। सभी इच्छुक युवक और युवतियां अपनी इच्छा अनुसार इनमें से किसी भी विषय पर प्रशिक्षण प्राप्त कर सकते हैं वर्ष 2023 तक इस योजना के अंतर्गत 50 करोड़ युवक और युवतियों को प्रशिक्षित करने का लक्ष्य रखा गया है। इस योजना को उत्तर प्रदेश कौशल विकास योजना भी कहा जाता हैं।

UP कौशल विकास योजना – विवरण

योजना का नाम UP कौशल विकास योजना
विभाग उत्तर प्रदेश सरकार
आरंभ 2023
उद्देश्य 34 क्षेत्रों में 283 पाठ्यक्रम की ट्रेनिंग
लाभ बेरोजगारी दूर करना
श्रेणी उत्तर प्रदेश सरकारी योजनाएं
यह भी पढे : राशन डीलर भर्ती 2022/23: डीलर के पदों पर बम्पर भर्ती

UP कौशल विकास योजना का उद्देश्य

उत्तर प्रदेश सरकार ने कौशल मिशन योजना का आरंभ योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा किया गया है। क्योंकि हमारे देश में काफी ऐसी बेरोजगार लड़के तथा लड़कियां है जो शिक्षित तो है परंतु उनके पास जवाब नहीं है। इन सब बातों को ध्यान में रखते हुए इस योजना का आरंभ किया गया है। जिससे शिक्षित नागरिकों को जॉब आसानी से प्राप्त करके खुद को सफल बना सके और उन्हें जॉब आसानी से मिल सके और वह खुद का व्यापार भी आरंभ कर सकते हैं। यूपी कौशल विकास मिशन योजना का सबसे बड़ा उद्देश्य है भारत की बेरोजगारी को कम करके हमारे देश की गरीबी को कम किया जा सके जिससे देश के शिक्षित नागरिक जॉब करें या ट्रेंनिंग प्राप्त करके अपना खुद का व्यवसाय कर सकते हैं। ट्रेनिंग पूरी होने के बाद वह बहुत आत्म निर्भर बनेंगे तथा सभी को इसे बहुत प्रेरणा मिलेगी।

UP कौशल विकास योजना की विशेषताए

  • इस योजना के अंतर्गत राज्य के सभी बेरोजगार युवाओं को रोजगार के लिए प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा।
  • उत्तर प्रदेश के बेरोजगार युवक और युवतियों को प्रशिक्षण के लिए अपनी इच्छा अनुसार पाठ्यक्रम चूनने का मौका दिया जाएगा।
  • उत्तर प्रदेश कौशल विकास योजना 2020 के अंतर्गत 34 क्षेत्रों के 283 पाठ्यक्रमों जैसे मोटर वाहन, टेंशन डिजाइनिंग आदि का प्रशिक्षण दिया जाएगा।
  • सभी पाठ्यक्रम में अंग्रेजी की जानकारी दी जाएगी साथ ही कंप्यूटर की भी जानकारी भी दी जाएगी।
  • राज्य सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त संस्थानों के द्वारा सफलता प्राप्त किए गए युवक और युवतियों को प्रमाण पत्र भी दिया जाएगा।

UP कौशल विकास योजना का लाभ

  • इस योजना का सबसे बड़ा फायदा यह है कि राज्य की गरीबी मिट जाएगी और बेरोजगारी दूर हो जाएगी। प्रत्येक शिक्षित छात्र जो वर्तमान में बेरोजगार है, रोजगार की तलाश में दर-दर भटकता है अगर वह इस कौशल विकास योजना 2023 बैच के अंतर्गत प्रशिक्षण लेने में सक्षम है तो एक प्रमाण पत्र दिया जाएगा जो उसे नौकरी पाने में मदद करेगा।
  • यदि रोजगार सचित होता है तो राज्य प्रगति करेगा और राज्य की प्रगति के साथ आगे बढेगा और ऐसा मिशन सभी राज्य सरकारों द्वारा चलाया जाना चाहिए ताकि इस देश से गरीबी और बेरोजगारी पूरी तरह से समाप्त हो जाए।
  • गरीब माता-पिता अपने बच्चों को इस तथा से पढ़ाते हैं कि वह कभी-कभी उन्हें कर्ज लेकर बच्चों को पढ़ाते हैं, लेकिन बच्चों के सार्थक होने के बाद भी उन्हें नौकरी नहीं मिलती है और वह नौकरी की तलाश में इधर-उधर भटकते रहते हैं।
  • इस कौशल विकास योजना 2023 की शुरुआत के साथ, उसके पास किसी भी क्षेत्र में एक विशेषता होगी, कम से कम वह इस काम का मास्टर है जिसके बाद वह फैशन डिजाइनिंग के बाद भी अपना व्यवसाय कर सकता है और ऑटोमोबाइल अपने व्यवसाय करते हैं।

UP कौशल विकास योजना की पात्रता

  • आवेदन करने वाला युवा या युवती उत्तर प्रदेश की स्थाई निवासी होने चाहिए।
  • आवेदन हेतु 18 से 35 वर्ष तक के युवा ही आवेदन कर सकते हैं।
  • शैक्षणिक योग्यता कम से कम 10 वीं पास होनी चाहिए।

UP कौशल विकास योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • बेरोजगारी भत्ता पंजीकरण संख्या
  • मतदाता पहचान पत्र
  • शैक्षणिक प्रमाण पत्र
  • बीपीएल राशन कार्ड संख्या
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • बैंक खाता
यह भी पढे : Home Guard भर्ती 2022/23: 10वी पास पर निकली बम्पर भर्ती, जल्द आवेदन करे

आवेदन कैसे करे

यदि आप भी उत्तर प्रदेश के स्थाई निवासी है और आप भी इस योजना के अंतर्गत ट्रेनिंग प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको अधिकारिक वेबसाइट पर ऑनलाइन पंजीकरण करना होगा।

  • सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश कौशल विकास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जाएगा।
  • होम पेज खोलने के बाद आपको Candidate Registration का ऑप्शन दिखाई देगा।
  • आपको Candidate Registration ऑप्शन पर क्लिक कर देना होगा।
  • ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक फॉर्म खुल जाएगा।
  • इस फॉर्म को ध्यान से भरे और आपसे जो भी जानकारी पूछी जाती है उसे भरे जैसे नाम, पता, फोन नंबर आदि।
  • फॉर्म को पूरा करने के बाद यह देखने के लिए अच्छी तरह से जांच ले कि उसमें कोई कमी तो नहीं है।
  • इसके बाद समिति के बटन पर क्लिक करें।
  • सबमिट करने के बाद आपको अपनी फोटो और सभी प्रमाण पत्रों को स्कैन करके अपलोड करना होगा।
  • पंजीकरण पूरा करने के बाद आपको एक पासवर्ड प्राप्त होगा जिसके साथ आप लॉगिन कर सकते हैं।
  • लोगिन करने के बाद आपका पंजीकरण प्राप्त होगा।

महत्वपूर्ण लिंक

ऑफिशियल वेबसाइट Click Here
HomePage Click Here

1 thought on “UP कौशल विकास योजना : इस योजना के तहत व्यक्ति को प्रमाण पत्र दिया जाएगा जो उसे नौकरी पाने में मदद करेगा”

Leave a Comment