सौर कृषि आजीविका योजना: अब सरकार सौर ऊर्जा प्लांट लगाने पर 30% तक देगी सबसिडी

Saur Krishi Aajeevika Yojana (SKAY) Portal 2023, सौर कृषि आजीविका योजना – किसानों की आय बढ़ाने के लिए राजस्थान सरकार द्वारा एक नई योजना की शुरुआत की गई है। जिसका नाम सौर कृषि आजीविका योजना (SKAY) है। इस योजना के तहत किसान अपनी बंजर और अनुपयोगी जमीन पर सोलर प्लांट लगवा कर अच्छा पैसा कमा सकते हैं। राजस्थान में सौर ऊर्जा संयंत्र स्थापित करने के लिए Saur Krishi Aajeevika Yojana Portal को राज्य में 17 अक्टूबर 2022 को ऊर्जा मंत्री भवन भवन सिंह भाटी द्वारा लांच किया गया है। सौर कृषि आजीविका योजना से जुड़ने के लिए राज्य सरकार ने एक पोर्टल तैयार किया है। जहां किसान अपना रजिस्ट्रेशन करके अपने दस्तावेज अपलोड करके अंशदान दे सकते हैं। इसके अलावा सोलर एनर्जी प्लांट लगाने वाले डेवलपर से भी जुड़ सकते हैं। आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से SKAY Yojana Portal से संबंधित जानकारी उपलब्ध कराएंगे ताकि आप भी अपनी बंजर जमीन पर सोलर प्लांट लगवा कर अच्छा पैसा कमा सके।

सौर कृषि आजीविका योजना

Saur Krishi Aajeevika Yojana Portal – राजस्थान सरकार द्वारा चलाई जा रही के तहत अब तक कुल 7217 किसान इस योजना से जुड़ चुके हैं। तो वहीं, 34621 से अधिक लोग ने पोर्टल पर विजिट कर चुके हैं। किसानों व डेवलपर को एक साथ एक मंच पर लाने के लिए आधिकारिक वेबसाइट Www.Skayrajasthan.Org.In भी लॉन्च की गई है। यहां पर किसान अपनी खाली जमीन की जानकारी साझा करते हैं। इस वेबसाइट पर सोलर प्लांट लगाने वाली निजी कंपनियां हैं, जो अपनी आवश्यकतानुसार किसानों की जमीन का चयन करती हैं। जिसके बाद किसानो से सीधा संपर्क किया जाता है। इसके बाद यदि दोनो पक्ष सोलर एनर्जी प्लांट लगाने के लिए हामी भरते हैं, तो वेरिफिकेशन को पूरा करके सोलर प्लांट की अनुमति मिल जाती है।

सौर कृषि आजीविका योजना – विवरण

योजना का नाम सौर कृषि आजीविका योजना
शुरुआत की गई राजस्थान सरकार द्वारा
लाभार्थी राज्य का कोई भी किसान या भूमि मालिक
उद्देश्य बंजर भूमि को लीज/किराए पर देने का अवसर देकर
राज्य के प्रचुर भूमि संसाधनों का उपयोग करना
राज्य राजस्थान
आवेदन मोड ऑनलाइन

सौर कृषि आजीविका योजना का उद्देश्य

सौर कृषि आजीविका योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य किसानों को सौर ऊर्जा संयंत्र की स्थापना के लिए पूर्व निर्धारित राशि के आधार पर बंजर भूमि को लीज/किराए पर देने का अवसर देकर राज्य के प्रचुर भूमि संसाधनों का उपयोग करना है। जिसके लिए राजस्थान डिस्कॉम्स ने एक ऑनलाइन पोर्टल विकसित किया है। Saur Krishi Aajeevika Portal के माध्यम से ऊर्जा संयंत्र स्थापित करने के लिए किसान अपनी जमीन को लीज पर देने के लिए पंजीकृत कर सकते हैं। और सौर ऊर्जा संयंत्र के विकासकर्ता (Developer) भी पंजीकृत किसानों तक पहुंचने के लिए पंजीकरण कर सकते हैं। जिससे किसानों को लाभ प्राप्त होगा। तथा उनकी आय में वृद्धि होगी। इस योजना के तहत स्थापित होने वाले सौर ऊर्जा संयंत्र से उत्पादित होने वाली बिजली आसपास के क्षेत्र के लोगों को ही मिलेगी और उनको दिन के समय कृषि कार्य के लिए पर्याप्त बिजली उपलब्ध हो सकेगी। किसानों की बंजर जमीन का सदुपयोग किया जा सकेगा।

यह भी पढे : मुख्यमंत्री युवा इंटर्नशिप योजना: इस योजना के तहत लाभार्थी को मिलेंगे 8,000 रुपए प्रतिमाह

कितनी मिलेगी सबसिडी

सौर कृषि आजीविका योजना के अंतर्गत सौर ऊर्जा प्लांट लगाने पर कुल लागत पर 30 प्रतिशत की सब्सिडी सरकार की तरफ से दी जाएगी। जिसे पीएम कुसुम योजना के जरिए डेवलपर तो दिया जाएगा।

सौर कृषि आजीविका योजना का लाभ और विशेषताए

  • राजस्थान में सौर ऊर्जा संयंत्र स्थापित करने के लिए Saur Krishi Ajivika Yojana Portal को राज्य में 17 अक्टूबर 2022 को ऊर्जा मंत्री भवन भवन सिंह भाटी द्वारा लांच किया गया है।
  • सौर कृषि आजीविका योजना के माध्यम से किसानों को दिन के समय भी बिजली होगी।
  • किसानों को बंजर/अनुपयोगी भूमि के लिए लीज के रूप में अतिरिक्‍त आय अर्जित करने का अवसर प्राप्त होगा।
  • विकासकर्ता राज्‍य भर में किसान भूमि मलिकों के संपर्क विवरण के साथ उपलब्ध भूमि तक पहुंचेंगे।
  • राज्य में सस्ती और ऊर्जा की उपलब्धता से बिजली खरीद लागत और वितरण एवं व्यवसायिक हानियों में कमी आएगी।
  • इस योजना के माध्यम से पीएम कुसुम योजना के घटक ए से वितरित, सौर पावर प्लांट बिजली संयंत्र की क्षमता या इसकी स्थापना स्थान पर कोई बाध्यता नहीं होगी।
  • बिजली उत्पादन और उसकी खपत दोनों उपभोक्ता के नजदीक होने के कारण विद्युत वितरण ढांचे एवं वितरण हानि में भी कमी आएगी।
  • किसानों की बंजर अनुपयोगी भूमि पर सरकार की ओर से किराया दिया जाएगा।
  • जिसके माध्यम से किसान अपनी बंजर और अनुपयोगी जमीन पर सोलर प्लांट लगवा कर अच्छा पैसा कमा सकते हैं।
  • किसानों को सिंचाई के लिए बिजली के साथ ही पैसा कमाने का अवसर भी मिलेगा।

ध्यान रखने वाली बाते

  • सरकार की सौर कृषि आजीविका योजना के तहत लाभ पाने के लिए आधिकारिक वेबसाइट के जरिए अपना पंजीकरण करवाना होगा।
  • सौर कृषि आजीविका योजना से किसान, किसानों के समूह, भूमि मालिक, सहकारी समितियां, संस्थान व संघ जुड़ सकते हैं।
  • सौर कृषि आजीविका योजना में पंजीकरण करवाने के लिए कम से कम 1 हेक्टेयर की जमीन को लीज/किराए पर देना होगा।

सौर कृषि आजीविका योजना कि पात्रता

  • सौर कृषि आजीविका योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक को राजस्थान का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना के तहत आवेदन करने के लिए राज्य का कोई भी किसान या भूमि मालिक पात्र होंगे।
  • सौर ऊर्जा संयंत्र के विकासकर्ता सौर कृषि आजीविका योजना के लिए पात्र होंगे।
  • राज्य के जिन नागरिकों के पास बंजर जमीन होगी वही इस योजना के लिए पात्र होंगे।

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र
  • खेत की खतौनी के कागजात
  • बैंक पासबुक
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर
यह भी पढे : Oil इंडिया लिमिटेड द्वारा 10वी पास पे विभिन्न पदों के लिए भर्ती का नोटिफिकेशन जारी

आवेदन कैसे करे

  • सबसे पहले आपको सौर कृषि आजीविका योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको फॉर्मल लॉगइन के सेक्शन में Register Here के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज पर आपको मोबाइल नंबर, फुल नेम, यूजर टाइप दर्ज करना होगा।
  • अब आपको Submit के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया भेद खुल जाएगा जहां पर आपको एक एप्लीकेशन फॉर्म दिखाई देगा
  • इस एप्लीकेशन फॉर्म में आपको अपना जमीन का सारा विवरण वगैरा प्रदान करना होगा
  • विवरण प्रदान करने के पश्चात आपको पंजीकरण शुल्क जमा ऑनलाइन माध्यम से करना होगा
  • इसके बाद आपको प्रदान की गई सभी जानकारी अच्छे से चेक करनी है एवं सबमिट का ऑप्शन पर क्लिक करना है।

महत्वपूर्ण लिंक

HomePage Click Here

1 thought on “सौर कृषि आजीविका योजना: अब सरकार सौर ऊर्जा प्लांट लगाने पर 30% तक देगी सबसिडी”

Leave a Comment