सौभाग्यवती योजना: इस योजना के तहत गर्भधारण से लेकर शिशु जन्म तक की सारी जरूरतों पूरी करेगी सरकार

WhatsApp Group Join Now

Telegram Group Join Now

उत्तराखंड सरकार के द्वारा गर्भवती महिलाओं को ध्यान में रखते हुए उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना 2022 की शुरुआत की गई है । Uttarakhand Saubhagyavati Yojana के तहत गर्भवती महिलाओं तथा उनके बच्चों को ध्यान में रखकर उन्हें लाभ दिया जाएगा और आवश्यक जरूरतों को पूरा किया जाएगा । मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जी के द्वारा हाल ही में गर्भवती महिलाओं और नवजात शिशुओं को साफ-सफाई और पोषण के लिए तथा किट और कपड़े प्रदान करने के उद्देश्य से Mukhyamantri Saubhagyavati Yojana 2022 की शुरुआत कर दी गई है ।

सौभाग्यवती योजना का संचालन राज्य सरकार के द्वारा दो चरणों में किया जाएगा पहला जो गर्भवती महिलाओं को ध्यान में रखकर किया जाएगा और दूसरा नवजात शिशुओं को ध्यान में रखकर । उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना के तहत गर्भवती महिला और नवजात शिशु दोनों को लाभान्वित करने का उद्देश्य राज्य सरकार के द्वारा सुनिश्चित किया गया है ।

सौभाग्यवती योजना

चुकी हमने आपको पहले ही बताया इस योजना के तहत 2 किट सुनिश्चित की गई है पहला गर्भवती महिला के लिए तथा दूसरा नवजात शिशु के लिए । उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना के अंतर्गत स्थानीय पहनावे एवं मौसम के अनुकूल वस्त्र को सुनिश्चित कर तैयार किया जाएगा तथा इसे महिला एवं नवजात शिशु को प्रदान भी किया जाएगा । Uttarakhand Saubhagyawati Yojana 2022 के तहत उत्तराखंड की गर्भवती महिलाओं और नवजात शिशुओं के बेहतर स्वास्थ्य के लिए उन्हें पौष्टिक आहार भी प्रदान करने की व्यवस्था की गई हैं । यानी उत्तराखंड की गर्भवती महिला पैसे की कमी के कारण वैसे सभी असुविधाओं से दूर रहेंगे जो एक गर्भवती महिला के लिए जरूरी होता है । राज्य की जो भी इच्छुक लाभार्थी Uttarakhand CM Saubhagyavati Yojana 2022 का लाभ लेना चाहते हैं उन्हें इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा , बता दें कि इस योजना के तहत आयकर दाता और सरकारी कर्मचारी को शामिल नहीं किया गया है । इस योजना के तहत केवल आर्थिक रूप से कमजोर और गरीब परिवार की गर्भवती महिलाएं तथा नवजात शिशु को ही लाभान्वित किया जाएगा ।

सौभाग्यवती योजना – विवरण

योजना का नाम सौभाग्यवती योजना
शुरू किया गया उत्तराखंड मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जी के द्वारा
उद्देश्य राज्य के वैसे गरीब और निर्धन परिवार की गर्भवती महिलाओं को लाभ पहुंचाना जो गर्भधारण के
दौरान पैसे की कमी के कारण पौष्टिक आहार तथा जरूरत की सामग्री नहीं प्राप्त कर पाते हैं ।
लाभार्थी गर्भवती महिलाएं तथा नवजात शिशु
लाभ गर्भधारण से लेकर शिशु के जन्म तक में आने वाली लगभग
जरूरतों को राज्य सरकार के द्वारा पूरा किया जाएगा
राज्य उत्तराखंड
यह भी पढे : NSCBMC भर्ती 2023: 12वीं पास पर स्टाफ नर्स के विभिन्न पदों के लिए भर्ती का नोटिफिकेशन जारी

सौभाग्यवती योजना का उद्देश्य

जैसा आप सभी जानते हैं गर्भावस्था के समय सभी गर्भवती महिलाओं को स्वच्छता और पौष्टिक आहार की जरूरत होती है और हमारे देश में एक ऐसा वर्ग भी है जो आर्थिक रूप से बहुत कमजोर हैं पैसे की कमी से वह अपनी इन जरूरतों और स्वच्छता के मापदंडों को पूरा नहीं कर पाते हैं । इस समस्या को देखते हुए उत्तराखंड सरकार ने मुख्यमंत्री सौभाग्यवती योजना की शुरुआत की है । इस योजना के तहत महिलाओं तथा नवजात शिशुओं को किट के रूप में जरूरत की चीजें मुफ्त में दी जाएंगे जिससे वह पौष्टिक आहार और स्वच्छता जैसे चीजों को आसानी से पूरा कर पाएंगे । Uttrakhand Saubhagyavati Yojana 2022 का मुख्य उद्देश्य राज्य की गर्भवती महिलाओं और नवजात शिशुओं को उचित स्वच्छता सुनिश्चित कराना और उनके बेहतर स्वास्थ्य के लिए पौष्टिक भोजन उपलब्ध कराना है । इस योजना से राज्य में मातृ मृत्यु दर ( MMR ) के साथ-साथ शिशु मृत्यु दर (IMR) में भी काफी कमी आएगी साथ ही गरीबों के लिए इस योजना को वरदान भी कहा जा सकता है । क्योंकि इससे उन्हें बेहतर स्वास्थ्य, स्वच्छता, पौष्टिक आहार इत्यादि जैसे जरूरत की चीज उपलब्ध हो सकेगी ।

सौभाग्यवती योजना के लाभ

  • Uttarakhand Saubhagyavati Yojana का लाभ उत्तराखंड की गर्भवती महिलाओं तथा नवजात शिशु को दिया जाएगा ।
  • इस योजना के जरिए राज्य के गर्भवती महिलाओं तथा नवजात शिशुओं को जरूरत और आवश्यकता की चीजें मुफ्त में उपलब्ध कराए जाएंगे ।
  • उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना के अंतर्गत राज्य सरकार के द्वारा 2 किट देने की व्यवस्था की गई है जिसमें एक किट गर्भवती महिलाओं के लिए होगी तथा दूसरी किट नवजात शिशु के लिए ।
  • Uttarakhand Saubhagyavati Yojana 2022 के तहत गर्भवती महिलाओं तथा नवजात शिशुओं को उचित स्वच्छता सुनिश्चित कराया जाएगा तथा उनके बेहतर स्वास्थ्य के लिए उन्हें पौष्टिक भोजन भी प्रदान किया जाएगा।
  • मुख्यमंत्री सौभाग्यवती योजना 2022 के तहत गर्भवती महिलाएं एवं नवजात शिशुओं को दैनिक उपयोग की सामग्री प्रदान की जाने की व्यवस्था भी राज्य सरकार के द्वारा की गई है ।

सौभाग्यवती योजना की पात्रता

  • इस योजना के तहत केवल राज्य की गर्भवती महिलाओं तथा नवजात शिशु को ही पात्र लाभार्थी माना जाएगा ।
  • आवेदन करता उत्तराखंड राज्य का स्थाई निवासी होना चाहिए
  • उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना के तहत केवल 18 वर्ष से ऊपर की गर्भवती महिलाएं ही लाभ ले सकेंगे ।
  • अगर आप आयकर दाता हैं या आप सरकारी कर्मचारी के परिवार से हैं तो आप उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना का लाभ नहीं ले सकते हैं ।

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • गर्भवती महिला की आयु प्रमाण पत्र
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर
  • संपूर्ण पता
  • कुछ निजी जानकारी
यह भी पढे : HRTC भर्ती 2023: 10वीं पास पर ड्राइवर के 276 पदों के भर्ती का नोटिफिकेशन जारी, रु. 15,000+ से शुरू वेतन

आवेदन कैसे करे

अब तक आपने Uttarakhand Saubhagyavati Yojana के लिए सभी आवश्यक जानकारी प्राप्त की और आपने यह भी जाना कि कौन व्यक्ति इस योजना का लाभ ले सकता है। अगर बात करें Uttarakhand Saubhagyawati Yojana 2022 के तहत आवेदन करने की तो अभी इस योजना की केवल घोषणा राज्य सरकार के द्वारा की गई है इसके लिए नहीं अभी तक कोई आधिकारिक वेबसाइट लांच की गई है और ना ही कोई आधिकारिक बयान राज्य सरकार के द्वारा दिया गया है । राज्य के जो भी इच्छुक लाभार्थी हैं उन्हें Mukhyamantri Saubhagyavati Yojana 2022 के तहत आवेदन करने के लिए थोड़ा इंतजार करना होगा । जैसे ही राज्य सरकार द्वारा कोई आधिकारिक घोषणा या वेबसाइट विकसित किया जाता है तो उसकी जानकारी हम सबसे पहले अपनी वेबसाइट Sarkariyojnaa.Com के माध्यम से दे देंगे , तो आप हमारे वेबसाइट पर बने रहें और इस आर्टिकल को बार बार चेक करते रहें ।

महत्वपूर्ण लिंक

ऑफिशियल वेबसाइट Click Here
HomePage Click Here

2 thoughts on “सौभाग्यवती योजना: इस योजना के तहत गर्भधारण से लेकर शिशु जन्म तक की सारी जरूरतों पूरी करेगी सरकार”

Leave a Comment