मुख्यमंत्री बागवानी बिमा योजना: इस योजना के तहत फसल को नुकसान होने पर रु. 40,000 तक की मिलेगी सहाय

WhatsApp Group Join Now

Telegram Group Join Now

Haryana Mukhyamantri Bagwani Bima Yojana (हरियाणा मुख्यमंत्री खेती संरक्षण योजना) Online Registration 2023 – लोक प्राधिकरण ने लगातार 2023 तक पशुपालकों के वेतन को दोगुणा करने का लक्ष्य रखा है। इस उद्देश्य को पूरा करने के लिए, केंद्र और राज्य विधानसभाओं द्वारा विभिन्न प्रकार की योजनाओं पर काम किया जाता है। इस लक्ष्य के साथ कि पशुपालकों के वेतन का विस्तार किया जा सके और पशुपालकों के दुर्भाग्य को कम किया जा सके। आज हम आपको हरियाणा सरकार द्वारा शुरू किए गए ऐसे ही एक प्लान से जुड़ी जानकारियां देंगे। जिसका नाम है हरियाणा बॉस पादरी खेती संरक्षण योजना। इस योजना के माध्यम से बागवानी फसल पर बीमा प्रदान किया जाएगा। इस आर्टिकल को पढ़कर आपको इस योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त होगी। जैसे कि इसका उद्देश्य, विशेषताएं, पात्रता,महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया, ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन आदि।

मुख्यमंत्री बागवानी बिमा योजना

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने 22 सितंबर को हुई मंत्रिमंडल की बैठक में हरियाणा मुख्यमंत्री खेती संरक्षण योजना शुरू करने का फैसला किया है। इस योजना के माध्यम से, उपज बीमारी, अशुभ जैसी सामान्य आपदाओं के कारण फसल दुर्भाग्य के खिलाफ कृषि किसानों को सुरक्षा कवर दिया जाएगा। वर्षा, तूफान, शुष्क मौसम, और इसी तरह। इस योजना के तहत कुल 21 सब्जियां, जमीन की उपज से उगाए गए खाद्य पदार्थ शामिल किए जाएंगे।

किसानों को Haryana Bagwani Bima Yojana का लाभ उठाने के लिए सब्जियों और मसालों की फसल पर ₹750 एवं फल की फसल पर ₹1000 की प्रीमियम का भुगतान करना होगा। जिसके एवज में उन्हें ₹30000 एवं ₹40000 का बीमा आश्वासन प्रदान किया जाएगा। बीमा दावों का निपटान करने के लिए सरकार द्वारा एक सर्वे किया जाएगा। जिसके अंतर्गत फसल नुकसान की चार श्रेणियां होंगी। जो कि 25%, 50%, 75% और 100% है।

मुख्यमंत्री बागवानी बिमा योजना – विवरण

योजना का नाममुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना
उद्देश्यप्राकृतिक आपदा या कीटों द्वारा बागवानी
फसलों का नुकसान होने पर बीमा प्रदान करना
संबंधित राज्यहरियाणा
वर्ष2023
लाभार्थीहरियाणा राज्य के किसान
शुरू की गयीहरियाणा सरकार द्वारा
लाभकिसानों की आय दोगुनी, बीमा कवर, बागवानी को प्रोत्साहन
आवेदन करने का माध्यमऑनलाइन / ऑफलाइन
यह भी पढे : पेड़ लगाओ पैसे पाओ योजना: इस योजना के तहत प्रति पेड़ 60 रुपए की तक की मिलेगी आर्थिक सहाय

मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना का उद्देश्य

हरियाणा मुख्यमंत्री खेती संरक्षण योजना का मुख्य उद्देश्य प्रदेश के किसानों को बागवानी फसल की खेती करने के लिए प्रोत्साहित करना है। प्राकृतिक आपदाओं के कारण होने वाले नुकसान पर इस योजना के माध्यम से बीमा कवर प्रदान किया जाएगा। हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना किसानों की आय में वृद्धि करने में भी कारगर साबित होगी। इसके अलावा इस योजना के माध्यम से किसानों की आय में भी सुधार आएगा। हरियाणा मुख्यमंत्री खेती संरक्षण योजना के अंतर्गत प्राकृतिक आपदा के कारण होने वाले फसल के नुकसान की भरपाई सरकार द्वारा की जाएगी जिससे किसान निश्चिंत होकर खेती कर सकेगा।

मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना का लाभ एवं विशेषताए

  • हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी के द्वारा 22 सितंबर को हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना को आरंभ करने का निर्णय लिया गया।
  • यह निर्णय मंत्रिमंडल की बैठक के माध्यम से लिया गया।
  • हरियाणा मुख्यमंत्री खेती संरक्षण योजना के माध्यम से बागवानी किसानों की फसलों को प्राकृतिक आपदाओं से होने वाले नुकसान पर बीमा कवर प्रदान किया जाएगा।
  • हरियाणा मुख्यमंत्री खेती संरक्षण योजना कुल 21 सब्जियां, फल और मसालों को कवर करेंगी।
  • इस योजना के माध्यम से सब्जियों और मसालों की फसल पर ₹750 एवं फल की फसल पर ₹1000 के प्रीमियम का भुगतान करना होगा।
  • किसानों को ₹30000 एवं ₹40000 का बीमा आश्वासन इस योजना के माध्यम से प्रदान किया जाएगा।
  • बीमा दावे का निपटान करने के लिए सरकार द्वारा एक सर्वे किया जाएगा।
  • इस सर्वे के माध्यम से नुकसान की चार श्रेणियां होंगी जो कि 25% 50% 75% एवं 100% है।
  • इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना किसानों के लिए वैकल्पिक होगा।
  • यह योजना पूरे राज्य में लागू की जाएगी।
  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए मेरा फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर अपनी फसल एवं क्षेत्र का ब्यौरा प्रदान करते हुए पंजीकरण करना होगा।
  • इस योजना के संचालन के लिए सरकार द्वारा 10 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है।
  • राज्य एवं जिला स्तरीय समितियों द्वारा राज्य एवं जिला स्तर पर निगरानी, संरक्षण और विवादों का समाधान भी किया जाएगा।

मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना की पात्रता

  • आवेदक हरियाणा का अस्थाई निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक किसान होना चाहिए।
  • किसान द्वारा बागवानी की फसल होनी चाहिए।

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • फसल का ब्यौरा
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी
यह भी पढे : डॉ. भीमराव अंबेडकर आर्थिक कल्याण योजना: इस योजना के तहत रु. 1 लाख तक की मिलेगी लोन सहाय

आवेदन कैसे करे

  • सबसे पहले आपको हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको अप्लाई नाव के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने आवेदन फॉर्म फुल कर आएगा।
  • आपको इस फार्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे कि आपका नाम, ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर आदि दर्ज करना होगा।
  • अब आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।
  • इसके बाद आपको समिति के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप हर्जाना मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकेंगे।

महत्वपूर्ण लिंक

ऑफिशियल वेबसाईट Click Here
HomePage Click Here

1 thought on “मुख्यमंत्री बागवानी बिमा योजना: इस योजना के तहत फसल को नुकसान होने पर रु. 40,000 तक की मिलेगी सहाय”

Leave a Comment