कल्याणी विवाह सहायता योजना 2023 : इस योजना के तहत कन्याओ को विवाह के लिए रु. 2 लाख तक की मिलेगी सहाय

WhatsApp Group Join Now

Telegram Group Join Now

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा समय-समय पर कई लाभकारी योजनाओं का संचालित किया जाता है। राज्य में मुख्यमंत्री जी द्वारा कई प्रकार की योजनाओं को कन्याओं के लिए चलाया जा रहा है। प्रदेश की विधवा महिलाओं को उनके विवाह पर आर्थिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए मुख्यमंत्री कल्याणी विवाह सहायता योजना 2023 को शुरू किया गया है। राज्य की विधवाओं के प्रति सम्मान प्रदर्शित करने के लिए शासकीय शब्दावली में उन्हें विधवा के स्थान पर कल्याणी कहा जायेगा।

राज्य सरकार की विधवाओं के लिए शुरू की गयी इस योजना को मुख्यमंत्री कल्याणी विवाह सहायता योजना के नाम से जाना जाता है। आज के इस लेख में हम आपको MP Kalyani Vivah Sahayata Yojana 2023 के बारे में जानकारी देंगे। मुख्यमंत्री कल्याणी विवाह सहायता योजना 2023 रजिस्ट्रेशन फॉर्म ,योजना के लाभ और पात्रता के बारे में जानने के लिए आर्टिकल को पूरा पढ़ें।

कल्याणी विवाह सहायता योजना 2023

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री कल्याणी विवाह योजना का संचालन किया जाता है। इस योजना के माध्यम से प्रदेश की बेटियों को विवाह के अवसर पर ₹200000 की प्रोत्साहन राशि उनके बैंक खाते में जमा की जाती है। यह राशि डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से जमा की जाती है। पात्र लाभार्थी इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए जिले के कलेक्टर/संयुक्त संचालक/उपसंचालक/सामाजिक न्याय एवं निशक्तजन कल्याण को निर्धारण प्रपत्र प्रस्तुत कर सकते हैं। यह योजना प्रदेश की बेटियों की आर्थिक स्थिति सुधारने में कारगर साबित होगी। इसके अलावा इस Mukhyamantri Kalyani Vivah Sahayata Yojana के माध्यम से प्रदेश के नागरिकों के जीवन स्तर में सुधार आएगा। देश के नागरिकों को अपनी पुत्री का विवाह कराने के लिए ऋण लेने की भी आवश्यकता नहीं पड़ेगी। क्योंकि मध्य प्रदेश सरकार द्वारा उनको आर्थिक सहायता मुहैया कराई जाएगी।

कल्याणी विवाह सहायता योजना 2023 – विवरण

योजना का नाम कल्याणी विवाह सहायता योजना 2023
उद्देश्य कन्याओं को सामाजिक सुरक्षा व जीवन निर्वाह
के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना
लाभ कल्याणियों को विवाह के समय वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी
लाभार्थी राज्य की 18 वर्ष से अधिक आयु की सभी वर्ग की कल्याणी (विधवा)
यह भी पढे : CPRI भर्ती 2023 : विभिन्न पदों के लिए भर्ती का नोटिफिकेशन जारी, रु. 19,900 से शुरू वेतन

कल्याणी विवाह सहायता योजना का उद्देश्य

  • योजना का उद्देश्य मध्य प्रदेश की बेटियों को आर्थिक सुरक्षा प्रदान करना है।
  • राज्य Kalyani Vivah Sahayata Yojana में सभी वर्ग की कल्याणियों को उनके विवाह के अवसर पर सरकार द्वारा 2,00000 रुपए की वित्तीय सहायता दी जाएगी।
  • इस आर्थिक सहायता के माध्यम से राज्य की कल्याणियों को अपने जीवन यापन करने में किसी प्रकार की कठनाइयों का सामना नहीं करना पड़ेगा।
  • इस योजना के माध्यम से राज्य के नागरिकों का जीवन स्तर सुधरेगा।
  • राज्य में अब कल्याणी विवाह सहायता योजना के तहत किसी भी सदस्य को अब अपनी बेटी के विवाह के ऋण की आवश्यकता नहीं होगी। इस योजना में मध्य प्रदेश सरकार पात्र कल्याणियों को आर्थिक सहायता दी जाएगी।

योजना का लाभ एवं विशेषताए

  • मध्य प्रदेश सरकार द्वारा MP Kalyani Vivah Sahayata Yojana का संचालन किया जाता है।
  • इस योजना के माध्यम से प्रदेश की बेटियों को विवाह के अवसर पर ₹200000 की प्रोत्साहन राशि उनके बैंक खाते में जमा की जाती है।
  • यह राशि डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से जमा की जाती है।
  • पात्र लाभार्थी इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए जिले के कलेक्टर/संयुक्त संचालक/उपसंचालक/सामाजिक न्याय एवं निशक्तजन कल्याण को निर्धारण प्रपत्र प्रस्तुत कर सकते हैं।
  • यह योजना प्रदेश की बेटियों की आर्थिक स्थिति सुधारने में कारगर साबित होगी।
  • इसके अलावा इस योजना के माध्यम से प्रदेश के नागरिकों के जीवन स्तर में सुधार आएगा।
  • देश के नागरिकों को अपनी पुत्री का विवाह कराने के लिए ऋण लेने की भी आवश्यकता नहीं पड़ेगी।
  • क्योंकि मध्य प्रदेश सरकार द्वारा उनको आर्थिक सहायता मुहैया कराई जाएगी।

योजना की पात्रता एवं शरते

  • कल्याणी विवाह सहायता योजना में आवेदन के लिए कल्याणी को मध्य प्रदेश का निवासी होना चाहिए।
  • कल्याणी की आयु 18 वर्ष या 45 वर्ष से कम होनी चाहिए।
  • आवेदक कल्याणी को किसी सरकारी कार्यालय /संस्था में कर्मचारी या अधिकारी नहीं होना चाहिए।
  • आवेदनकर्ता महिला के पास आवेदन करते समय अपने पति का मृत्य प्रमाण पत्र होना आवश्यक है।
  • आवेदिका को योजना का लाभ लेने के लिए आयकरदाता की श्रेणी में नहीं होना चाहिए।
  • यदि आवेदक महिला को पारिवारिक पेंशन मिल रही है तो वह Mukhyamantri Kalyani Vivah Sahayata Yojana में आवेदन की पात्र नहीं होगी।

आवश्यक दस्तावेज

  • कल्याणी और उसके पति का एमपी का मूल निवास प्रमाण पत्र
  • साथ ही कल्याणी और उसके पति की 9 अंकों की समग्र आईडी
  • कल्याणी और उसके पति का आय प्रमाण पत्र की कॉपी
  • कल्याण के बैंक पासबुक की कॉपी जिसमें अकाउंट नंबर और आईएफएससी कोड लिखा हो
  • कल्याणी और उसके पति का आधार कार्ड की फोटो कॉपी
  • सक्षम अधिकारी द्वारा जारी किया गया विवाह प्रमाण पत्र
  • पति की मृत्यु का प्रमाण पत्र
  • कल्याणी आकर दाता नहीं है। इसका स्वघोषित प्रमाण पत्र
  • कल्याणी सरकारी कर्मचारी नहीं है। इसका भी स्वघोषित प्रमाण पत्र
  • एंव कल्याणी द्वारा परिवार पेंशन प्राप्त नहीं किया जा रहा है। इसका भी स्वघोषित प्रमाण पत्र
  • कल्याणी के पति का स्वघोषित प्रमाण पत्र कि उसकी पूर्व पति जीवित नहीं है।
  • कल्याणी और उसके पति के दोनों फोटो
  • विवाह के समय का संयुक्त रूप का फोटो ग्राफ
यह भी पढे : APVVP भर्ती 2023 : सिविल सहायक सर्जन के पदों के लिए नई भर्ती का नोटिफिकेशन जारी

आवेदन कैसे करे

  • सबसे पहले आपको आवेदन के लिए अपने जिले के कलेक्टर/संयुक्त संचालक/सामाजिक न्याय एवं निशक्तजन कल्याण के दफ्तर में सभी जरुरी डाक्यूमेंट्स को लेकर जाना होगा।
  • इस योजना में आवेदन के लिए दफ्तर में अधिकारी से आवेदन पत्र प्राप्त करें।
  • आवेदन पत्र में अब आपको सभी जानकारियों को सही से भरना है।
  • सभी जानकारी भरकर एप्लीकेशन फॉर्म में आपको अपने दस्तावेजों की फोटोकॉपी अटैच करनी है।
  • अब आपको इस एप्लीकेशन फॉर्म को कार्यालय में जमा कर देना है।
  • अब आपका आवेदन पूरा हो जायेगा।
  • आपके आवेदन पत्र की सम्बंधित अधिकारीयों द्वारा जाँच होगी जिसमे उपरांत आपको पात्र माने जाने पर योजना में मिलने
  • वाली धनराशि को आपके बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर दिया जायेगा।

महत्वपूर्ण लिंक

ऑफिशियल वेबसाइट Click Here
HomePage Click Here

Leave a Comment