अटल भूजल योजना 2022 – नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा जल संरक्षण योजना

अटल भूजल योजना 2022 : केंद्र सरकार ने जल संरक्षण के लिए अटल भूजल योजना शुरू की है। यह योजना देश के कई जल निकायों की मौजूदा स्थिति में सुधार करेगी। अटल भूजल योजना कृषि क्षेत्र की जरूरतों को पूरा करने के लिए भूजल के स्तर को ऊपर उठाने में मदद करेगी। केंद्रीय सरकार। रुपये निर्धारित किया है। इस बड़ी परियोजना को सफलतापूर्वक लागू करने के लिए 6,000 करोड़। अटल भुजल योजना गुजरात, हरियाणा, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान और उत्तर प्रदेश में चिन्हित क्षेत्रों में 5 साल की अवधि में लागू की जाएगी।

अटल भूजल योजना 2022

भूजल के स्तर को बढ़ाने के लिए सरकार द्वारा निरंतर प्रयास किया जाता है। जिसके लिए सरकार विभिन्न प्रकार की योजना संचालित करती है। इन योजनाओं के माध्यम से जागरूकता अभियान संचालित किए जाते हैं। इसके अलावा विभिन्न प्रकार के प्रयास किए जाते हैं जिससे कि भूजल के स्तर को बढ़ाया जा सके। हाल ही में सरकार द्वारा अटल भूजल योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से सरकार भूजल प्रबंधन के लिए सामुदायिक भागीदारी पर बल देगी। इस लेख के माध्यम से आपको Atal Bhujal Yojana से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की जाएगी। आप इस लेख को पढ़कर इस योजना का उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन करने की प्रक्रिया आदि से संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकेंगे। यदि आप अटल भूजल योजना 2022 का लाभ प्राप्त करने में रुचि रखते हैं तो आपसे निवेदन है कि आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

अटल भूजल योजना 2022 – हाईलाइट्स

योजना का नामअटल भूजल योजना
किसने आरंभ कीभारत सरकार
लाभार्थीभारत के नागरिक
उद्देश्यभूजल के स्तर को बढ़ाना
आधिकारिक वेबसाइटhttps://ataljal.mowr.gov.in/
साल2022

अटल भूजल योजना के उद्देश्य

अटल भूजल योजना (अटल जल) रुपये के परिव्यय के साथ स्थायी भूजल प्रबंधन की सुविधा के लिए एक केंद्रीय क्षेत्र की योजना है। 6000 करोड़। इसमें से रू. 3,000 करोड़ विश्व बैंक और रुपये से ऋण के रूप में होगा। भारत सरकार (जीओआई) से मिलान योगदान के रूप में 3,000 करोड़।

अटल भूजल योजना के तहत फंड

योजना के तहत अनुदान सहायता के रूप में राज्यों को धनराशि प्रदान की जाएगी। विश्व बैंक का वित्तपोषण एक नए उधार साधन के तहत किया जाएगा, अर्थात परिणाम के लिए कार्यक्रम (PforR), जिसमें योजना के तहत धनराशि विश्व बैंक से भारत सरकार को पूर्व-सहमति की उपलब्धि के आधार पर भाग लेने वाले राज्यों को संवितरण के लिए संवितरित की जाएगी। परिणाम।

अटल भूजल योजना किसानों को कृषि उपयोग के लिए शुद्ध और स्वच्छ पानी उपलब्ध कराने के लिए पानी के नीचे के स्तर को बढ़ाएगी। सरकार। कृषि जरूरतों के लिए भूजल और गंगा नदी के पानी की उचित आपूर्ति के लिए जल निकायों का पुनरुद्धार सुनिश्चित करेगा। अटल भूमि योजना का लाभ ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र के सभी लोग ले सकते हैं।

क्षेत्र का विवरण एवं संभावित वित्तीय आवंटन

राज्यजिलाब्लॉकग्राम पंचायत
गुजरात6241816
हरियाणा13361895
कर्नाटका14411199
मध्य प्रदेश59678
महाराष्ट्र13351339
राजस्थान1722876
उत्तर प्रदेश1026550
कुल781938353

कंपोनेंट्स ऑफ़ अटल भुजल योजना

अटल भूजल योजना के अंतर्गत इस योजना के दो घटक हैं जो इस प्रकार हैं:-

  1. संस्थागत सुदृढ़ीकरण और क्षमता निर्माण घटक (1,400 करोड़ रुपये) भाग लेने वाले राज्यों में भूजल क्षेत्र में मजबूत डेटा बेस, वैज्ञानिक दृष्टिकोण और सामुदायिक भागीदारी की सुविधा के द्वारा भूजल शासन के लिए संस्थागत व्यवस्था को मजबूत करने के लिए ताकि वे अपने संसाधनों का स्थायी रूप से प्रबंधन कर सकें।
  2. केंद्र और राज्य सरकारों की विभिन्न चल रही योजनाओं के बीच सामुदायिक भागीदारी, मांग प्रबंधन और अभिसरण पर जोर देने और भूजल व्यवस्था में परिणामी सुधार के साथ पूर्व-निर्धारित परिणामों की उपलब्धि के लिए राज्यों को प्रोत्साहित करने के लिए प्रोत्साहन घटक (4,600 करोड़ रुपये)।

अटल भूजल योजना के लिए आवेदन कैसे करे?

  • अब आपके सामने होम पर खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको आवेदन करें के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खोलकर आएगा।
  • इस पेज पर आपको सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप अटल भूजल योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकेंगे।

महत्वपूर्ण लिंक

आधिकारिक वेबसाइट यहाँ क्लिक करे
HomePageयहाँ क्लिक करे

Leave a Comment