अनुप्रती कोचिंग योजना : इस योजना के तहत परीक्षा पास करने वाले छात्रों को मिलेगी आर्थिक सहाय

WhatsApp Group Join Now

Telegram Group Join Now

अनुप्रति कोचिंग योजना की शुरुआत राज्य सरकार के द्वारा वर्ष 2005 में की गई थी जैसे की हम जानते है इस योजना के तहत राज्य के अनुसूचित जाति/ अनुसूचित जनजाति/ विशेष पिछडा वर्ग/अन्‍य पिछडा वर्ग एवं सामान्‍य वर्ग के बी.पी.एल. परिवारों के प्रतिभावान अभ्‍यार्थियों विभिन प्रकार की प्रतियोगी परीक्षाएं जैसे भारतीय सिविल सेवा, साजस्‍थान सिविल सेवा, आई.आई.टी., आई.आई.एम., सी.पी.एम.टी., एन.आई.टी. एवं राजकीय इन्‍जीनियरिंग एवं मेडिकल आदि में चयन की तयारी करने के लिए राजस्थान सरकार के द्वारा प्रत्येक व्यक्ति को आर्थिक सहयता प्रदान की जाएगी। आपको आज अपने इस लेखे के माध्यम से मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना की सभी जानकारी आपको प्रदान करेंगे। अतः आप से अनुरोध है की हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

अनुप्रती कोचिंग योजना

Mukhyamantri Anuprati Coaching Yojana 2023 के तहत अखिल भारतीय सिविल सेवा परीक्षा विभिन स्तर पास करने वाले अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के गरीब विद्यार्थियों राज्य सरकार के द्वारा 1 लाख रूपए तक धनराशि प्रदान की जाएगी। यह धनराशि सरकार के द्वारा विभिन स्तर पर प्रदान की जाएगी। राज्य के प्रत्येक विध्यार्ती इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए अनुसूचित जाति/ अनुसूचित जनजाति/ विशेष पिछडा वर्ग के अभ्यर्थियों के परिवार की वार्षिक आय 2 लाख रूपये से अधिक नहीं होनी चाहिए। Mukhyamantri Anuprati Coaching Yojana के तहत राजस्थान सरकार के द्वारा प्रत्येक राज्य में शुरु होने वाली इंजीनियरिंग एवं मेडिकल की प्रवेश परीक्षा RPMT/ RPET में सफल होने एवं राजकीय मेडिकल एवं इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश लेने के दौरान छात्र को सरकार के द्वारा 10 हजार रूपये धनराशि प्रदान की जाएगी।

अनुप्रती कोचिंग योजना – विवरण

योजना का नाम अनुप्रती कोचिंग योजना
शुरुआत की गई राजस्थान सरकार द्वारा
लाभार्थी राज्य के छात्र
आवेदन मोड ऑनलाइन
उद्देश्य प्रोत्साहन करना
श्रेणी सरकारी योजना
यह भी पढे : INCOIS भर्ती 2023 : विभिन्न पदों के लिए आई भर्ती, रु. 35,400+ से शुरू वेतन, आवेदन शुरू

अनुप्रती कोचिंग योजना का उद्देश्य

हमारे देश में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति के छात्रों के परिवारों की स्थिति बहुत कमजोर होती है यह बात आप सभी लोग जानते हैं, जिसके कारण इन परिवारों के बच्चे उच्च शिक्षा प्राप्त नहीं कर पाते हैं. इसी समस्या को देखते हुए राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना 2023 की शुरुआत की है। इस योजना के तहत भारतीय सिविल सेवा, राजस्थान सिविल सेवा जैसी विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाएं अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति, पिछड़ा वर्ग और सामान्य के सभी गरीब छात्रों को दी जाती हैं। राजस्थान की श्रेणी। सेवाओं, आईआईटी, आईआईएम, सीपीएमटी, एनआईटी और राज्य इंजीनियरिंग और चिकित्सा आदि में चयन की तैयारी के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करके प्रोत्साहित करना। Mukhyamantri Anuprati Coaching Yojana Rajasthan के द्वारा राज्य के गरीब छात्रों की शिक्षा के क्षेत्र में भविष्य को उज्ज्वल बनाने में सहायता होगी।

अनुप्रती कोचिंग योजना के लाभ

  • मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना के तहत राज्य सरकार कके माध्यम से हर साल 5-5 लाख रुपए की सहायता राशि मिलेगी।
  • इस योजना के तहत कक्षा 11वीं और 12वीं में एकेडमिक कोर्सेज हेतु और कॉलेज के अंतिम 2 वर्षों में रोजगार हेतु प्रोफेशनल कोचिंग संस्थानों के द्वारा तैयारी करवाई जाएगी, जिससे उन सभी को सहायता मिलेगी।
  • Mukhyamantri Anuprati Coaching Yojana Rajasthan की घोषणा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी के माध्यम से राजस्थान राज्य के बजट 2023 मैं गरीब नागरिको के बच्चो का भविष्य सुधरने के उदेश्य से की गई है।
  • राजस्थान के गरीब परिवारों और समुदायों के लिए यह एक सुनहरा मौका है जिसके माध्यम से उन सभी के बच्चे मुक्त में अच्छे कोर्स के लिए कोचिंग ले सकते हैं।
  • राजस्थान सरकार के द्वारा Mukhyamantri Anuprati Coaching Yojana 2023 आरम्भ किया गया है, इसका लाभ SC/ST/OBC/EWS/MBC समुदाय के छात्र- छात्राओं को प्रदान किया जाएगा।

अनुप्रती कोचिंग योजना की पात्रता

  • मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक को राजस्थान का निवासी होना अनवार्य है।
  • इस योजना के तहत अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, अति पिछड़ा वर्ग अल्पसंख्यक एवं आर्थिक रूप से कमजोर छात्र आवेदन कर सकते है।
  • जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग, सामाजिक न्याय अधिकारिता तथा अल्पसंख्यक मामलात विभाग के द्वारा किया जा सकता है।
  • ऐसे वह सभी छात्र जिनके माता पिता मेट्रिक लेवल 11 तक के राज्य सरकार के द्वारा कर्मी के रूम में कार्य कर रहे है और साथ ही वेतन प्राप्त कर रहे है।
  • इस योजना का लाभ लेने के लिए छात्र के परिवार की वार्षिक आय ₹800000 या फिर उससे कम होनी चाहिए।

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • शपथ पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • बीपीएल प्रमाण पत्र
यह भी पढे : SVNIRTAR भर्ती 2023 : विभिन्न पदों के लिए आई भर्ती, रु. 22,000 से शुरू वेतन

आवेदन कैसे करे

  • सर्वप्रथम आपको एसएसओ राजस्थान की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने Home Page खुलकर आएगा।
  • अब आपको Login पेज पर Click करना होगा।
  • यदि आप पहले से Registered है तो आपको अपने Login Credentials दर्ज करके Login करना होगा एवं यदि आप Registered नहीं है तो आपको पहले Registration कर के फिर Login करना होगा।
  • अब आपकी Screen पर एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको SJMS Portal के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपकी Screen पर एक नया Page खुल कर आएगा जिसमें आपको अपना नाम एवं Password दर्ज करके Login करना होगा।
  • इसके पश्चात आपकी Screen पर User Dashboard खुलकर आएगा।
  • आपको List Of Schemes के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको अनुप्रति योजना का चयन करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको पूछी गई सभी जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को Upload करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको Submit के विकल्प पर Click करना होगा।
  • Submit के विकल्प पर Click करने के बाद आपकी Screen पर Application Number आ जाएगा।
  • आपको यह Application Number अपने पास Save करके रखना है।
  • इस प्रकार आप राजस्थान अनुप्रति योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकेंगे।

महत्वपूर्ण लिंक

ऑफिशियल वेबसाइट Click Here
HomePage Click Here

Leave a Comment